Krishna Gupta

New Voice

16 Posts

38 comments

Reader Blogs are not moderated, Jagran is not responsible for the views, opinions and content posted by the readers.
blogid : 6615 postid : 43

यह कैसी ख़ुफ़ियागिरी ??

  • SocialTwist Tell-a-Friend

जैसा कि, हर बार समाचारों के माध्यम से सुनने को मिलता है, इस बार भी भारतीय ख़ुफ़िया तंत्र की सफलता की गाथा सुनने को मिली |

सत्ता तंत्र कि ओर से सीना चौड़ा करके कहा गया कि दिल्ली हाई कोर्ट परिसर में हुए बम विस्फोट के बारे में ख़ुफ़िया विभाग ने पहले ही चेतावनी जारी कि थी | लगभग हर बार यही सुनने को मिलता है कि RAW ने इस बारे में गृह मंत्रालय को पहले ही सूचित किया था | या फिर “सीबीआई ने कुछ महीने पहले ही चेतावनी दी थी, कि आतंकवादी ऐसे हमले कर सकते हैं |

ukt bayano को sun कर lagta है कि यह किसी किस्मका भद्दा मजाक है,जो भारतीयों के साथ सत्ता प्रतिष्ठान कर रहा है |
एक रिपोर्ट के मुताबिक दुनिया की सबसे ताकतवर ख़ुफ़िया संस्था CIA इतनी काबिल है की वह अपने राष्ट्रपति को यह भी बता सकती है की, “फल देश के राष्ट्रपति ने आज की रत कहने की मेज पर यह – यह चीज़े खायी | (वे लिस्ट भी दे सकते है )” मगर वे यह नहीं बता सकते की उनके देश में कोई आतंकी हमला कब और किस शहर में होगा | भगवन ने यह काबिलियत केवल भारतीय ख़ुफ़िया संस्थाओ को ही दी है |
क्या ऐसा नहीं लगता कि भारतीय खुफिया संस्थाओ की यह ‘अदा’ किसी सड़क छाप ज्योतिषी सरीखी है ??

जो संस्था इन्टरनेट पर अपनी एक अदद वेब साईट बनाने से डरती हो, उसका नाम है RAW ( रा ) | इस संस्था पर भारतीय कितना भरोसा करें और क्यों करे ??
खुफिया संस्थाए मायावी होती होती हैं | य्स्किन भारतीय रा तो अब भुतही संस्था सरीखा व्यव्हार करने पर उतारू है | जिसकी काली जुबान से लबरेज रिपोर्ट भारतीयों के लिए मुसीबत का सबब बनती है, कि “फलां जगह विस्फोट हो सकता है |” और वैसा ही हो जाता है |

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (1 votes, average: 5.00 out of 5)
Loading ... Loading ...

2 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments

Santosh Kumar के द्वारा
September 23, 2011

प्रिय कृष्णा जी ,.नमस्कार आतंरिक ख़ुफ़िया तंत्र को भाई लोग पर्सनल बना लेते हैं,..तो उसकी ख़ुफ़ियागिरी तो इसी ही होगी

shaktisingh के द्वारा
September 23, 2011

खूफिया तंत्र ने यह तो जानकारी कि दिल्ली में विस्फोट होने वाला है लेकिन यह नहीं बताया कि यह विस्फोट कहां और किस वक्त होगा. केवल दिल्ली में विस्फोट होने वाला है यह जानकारी देकर अपनी उपस्थिति दर्ज कराना चाहती थे भारत की खुफिया तंत्र. 


topic of the week



अन्य ब्लॉग

  • No Posts Found

latest from jagran